Friday, 18 May 2018

IPL 2018 - इन दो टीमों के गेंदबाजों ने कभी नहीं जीता है पर्पल कैप, जानिए उनके नाम

साल 2008 में शुरू हुए आईपीएल में अबतक 10 खिलाड़ी पर्पल कैप जीत चुके हैं। इनमें भारत के चार औैर विदेश के चार खिलाड़ी शामिल हैं। ड्वेन ब्रावो और भुवनेश्वर कुमार ने दो-दो बार इसे जीता है। पर्पल कैप जीतने वाले खिलाड़ियों की टीमों ने तीन बार ट्रॉफी पर कब्जा जमाया है। पाकिस्तानी तेज गेंदबाज सोहेल तनवीर, आरपी सिंह और भुवनेश्वर कुमार ने जब पर्पल कैप जीता तब उनकी टीम क्रमशः राजस्थान रॉयल्स, डेक्कन चार्जेज और एसआरएच ने खिताब पर कब्जा किया। प्रज्ञान ओझा एकमात्र ऐसे स्पिनर हैं, जिन्होंने पर्पल कैप कब्जा किया है।
सोहेल तनवीर ने जीता पहला पर्पप कैप
2008 में हुए पहले आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स की ओर से खेलते हुए 11 मैचों से 22 विकेट लेकर पर्पल कैप अपने नाम किया था। 2009 में डेक्कन चार्जर्स के लिए आरपी सिंह ने 23 विकेट लेकर पर्पल कैप जीता था। 2010 में डेक्कन चार्जर्स के ही प्रज्ञान ओजा ने पर्पल कैप जीता। उन्होंने 16 मैचों में 21 विकेट लिए थे।
2011 में मलिंगा ने जीता पर्पल कैप
मुंबई इंडियंस के तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा (28 विकेट) ने साल 2011 में, दिल्ली डेयरडेविल्स के तेज गेंदबाज मोर्ने मोर्कल (25 विकेट) ने साल 2012 में चेन्नई सुपर किंग्स के ड्वेन ब्रावो ने 2013 में पर्पल कैप अपने नाम किया। चेन्नई के मोहित शर्मा ने साल 2014 में ये खिताब अपने नाम किया है। 2015 में चेन्नई के ड्वेन ब्रावो ने फिर पर्पल कैप जीता। भुवनेश्वर कुमार ने 2016 और 2017 में पर्पल कैप अपने नाम किया।
आरसीबी और केकेआर खाली हाथ
वहीं अगर टीमों के हिसाब से बात करें तो सीएसके के खिलाड़ियों ने तीन बार और सनराइज़र्स हैदराबाद के गेंदबाज ने इस कैप पर दो बार कब्जा किया है। जबकि आरसीबी और केकेआर के गेंदबाजों ने इस कैप पर कभी कब्जा नहीं किया है।

No comments:

Post a Comment